• nationbuzz3

गेहूं खरीद आखिरकार शुरू हो गई चार दिन से केंद्रों पर एक भी दाने की खरीद नहीं हो सकी थी


यूपी बदायूं। गेहूं खरीद आखिरकार शुरू हो गई। चार दिन से केंद्रों पर एक भी दाने की खरीद नहीं हो सकी थी। पांचवें दिन यानी सोमवार को तीन किसानों से 167.50 क्विंटल गेहूं खरीद कर विभाग ने शुरुआत कर ली। विभागीय अधिकारियों का मानना है कि अब यूं ही खरीदारी चलती रहेगी और उम्मीद है कि गत वर्ष की अपेक्षा अच्छी खरीद होगी।


शासन के निर्देश पर एक अप्रैल से जिले में सरकारी गेहूं खरीद केंद्रों को खोला गया था। जहां पर किसानों से गेहूं की खरीद की जानी है, लेकिन जिले में चार अप्रैल तक एक भी दाने की खरीद नहीं हो सकी। हालांकि क्रय केंद्र प्रभारियों की तरफ से किसानों से लगातार संपर्क साधा जा रहा था, जिसका नतीजा यह हुआ कि पांच अप्रैल को किसान अपना गेहूं बेचने के लिए सरकारी गेहूं क्रय केंद्र पर पहुंचे। एक किसान उझानी में मंडी में स्थित विपणन शाखा पर दोपहर में पहुंचा, अभिलेखों के संबंधित खरीद की सभी प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद में अधिकारियों द्वारा किसान का फूल माला पहनाकर स्वागत किया गया। वहीं दो किसान गतौरा में स्थित विपणन शाखा पर गेहूं बेचने के लिए पहुंचे। यहां पर किसानों से गेहूं की खरीद की गई। दोनों जगहों पर तीनों किसानों से 167 क्विंटल 50 किलो गेहूं की खरीद की गई। वहीं डिप्टी आरएमओ प्रकाश नारायण ने आगे बेहतर खरीद होने की उम्मीद जताई है, उनका कहना है कि गत वर्ष की अपेक्षा इस साल अच्छी खरीद होगी।


डीएम ने किया क्रय केंद्रों का निरीक्षण

दातागंज/ बदायूं। सोमवार को डीएम दीपा रंजन ने मंडी समिति दातागंज पहुंचकर विपणन शाखा, यूपीएसएस के गेहूं क्रय केंद्रों का निरीक्षण किया। डीएम ने पंजिका, इलेक्ट्रॉनिक कांटे, नमी मापक यंत्र, छलना पेयजल बैठने की व्यवस्था का जायजा लिया। कोविड-19 महामारी को देखते हुए डीएम ने थर्मल स्कैनर भी रखने के निर्देश दिए हैं। जिससे वहां आने वाले लोगों का तापमान चेक किया जा सके। उन्होंने पीसीएफ द्वारा संचालित गेहूं क्रय केंद्र समरेर का भी औचक निरीक्षण किया। यहां इलेक्ट्रॉनिक कांटे के अलावा कोई भी व्यवस्था दुरुस्त नहीं पाई गई। डीएम ने नाराजगी व्यक्त करते हुए व्यवस्थाओं को पूरा करने के निर्देश दिए हैं।

  • Facebook
  • Twitter
  • YouTube
© Copyright ® All rights reserved Nation Buzz 2017 - 2020