top of page
  • Mohd Zubair Qadri

सर्दी का सितम शीतलहर ला प्रकोप अधिकतम तापमान 17 न्यूनतम आठ डिग्री सेल्सियस


यूपी बदायूं। कुछ राहत के बाद मंगलवार को दिन भर शीतलहर का प्रकोप बना रहा। बुधवार को हल्की धुप दिखी जिससे लोगो को ज़रा सी राहत मिली है। लेकिन सर्द हवाएं चुभती रहीं। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बीच अंतर कम होने के साथ पश्चिमी विक्षोभ के चलते सर्द हवाओं से जनजीवन प्रभावित हुआ। जरूरी काम से ही लोग घरों से निकले। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार करीब एक सप्ताह तक मौसम इसी तरह बना रहेगा। फिलहाल शीतलहर से राहत मिलने की उम्मीद कम है।


सर्दियों के इस सीजन में रविवार को अधिकतम और न्यूनतम तापमान के बीच अंतर कम हुआ था। सोमवार को कुछ सुधार हुआ और दोपहर में धूप भी खिली। तापमान में इजाफा होने से सोमवार को कुछ राहत मिली, लेकिन मंगलवार को मौसम एक बार फिर से बदल गया। दिन की शुरुआत कोहरे के साथ हुई और इसके बाद कोहरे की चादर और आसमान में बादलों के चलते दिन भर धूप नहीं निकली। मंगलवार को अधिकतम तापमान 17 और न्यूनतम आठ डिग्री सेल्सियस के आस-पास दर्ज किया गया। शीतलहर के बीच कोयले के साथ बाजारों में हीटर की बिक्री भी बढ़ गई है। मंगलवार को शीतलहर के प्रकोप के बीच बाजारों में भीड़ भी कम रही।


मौसम वैज्ञानिक डॉ. आलोक सागर गौतम का कहना है कि यूरोपियन देशों की ओर से आने वाली सर्द हवाएं हिमालय से होते हुए मैदानी इलाकों में पहुंच रहीं हैं। हवा में नमी ज्यादा होने के कारण सुबह के वक्त कोहरा छा रहा है। फिलहाल एक सप्ताह तक लोगों को शीतलहर से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है। मंगलवार को सर्द हवाओं की रफ्तार आठ किमी प्रति घंटा के बीच रही। रात में यह और बढ़ गई। बुधवार को भी मौसम इसी तरह का रहने का अनुमान है।

-

अंडे की कीमतों में आया उछाल, क्रेट बीस रुपये महंगी

शीतलहर के बीच कोयला और अंडे की कीमतों में उछाल आया है। दो दिन पहले तक कोयला 35 रुपये प्रति किलो था सोमवार को यह 40 रुपये हो गया। अब तक अंडे की एक क्रेट की कीमत 150-160 रुपये के बीच थी। मंगलवार को क्रेट की कीमत 170 रुपये तक पहुंच गई। कोयला व्यापार से जुड़े मुजाहिद का कहना है कि मांग और आपूर्ति में कमी के कारण कोयले के भाव बढ़े हैं। दो दिन से लगातार मांग में इजाफा हो रहा है इसके अनुरूप सप्लाई नहीं मिल रही। अंडा व्यापारी वेद प्रकाश का कहना है कि इन दिनों अंडे की मांग बढ़ गई है। करीब एक सप्ताह के भीतर अंडे की प्रति क्रेट की कीमत में 20 रुपये तक का इजाफा हुआ है।

-

फरवरी मध्य तक बना रहेगा शीतलहर का प्रकोप

मौसम वैज्ञानिक डॉ. आलोक सागर गौतम का कहना है कि सर्दियों के इस सीजन में मैदानी इलाकों में शीतलहर देरी से शुरू हुई है। आम तौर पर दिसंबर के अंतिम और जनवरी के पहले सप्ताह शीतलहर और कोहरे का प्रकोप ज्यादा रहता है। इस सीजन में दिसंबर के अंतिम सप्ताह और जनवरी के पहले सप्ताह की बात करें तो न्यूनतम तापमान नौ डिग्री से नीचे नहीं आया है। जनवरी का दूसरा सप्ताह खत्म होने के बाद तापमान छह डिग्री तक पहुंचा है। आले वाले दिनों में न्यूनतम तापमान चार डिग्री तक पहुंचने का अनुमान है। शीतलहर देर से शुरू होने के कारण अनुमान है कि इस बार फरवरी मध्य तक शीतलहर का असर बना रहेगा।

bottom of page